सोमवार, 12 जून 2017

बर्फ सिर्फ ठंडक के लिए नहीं बल्कि ब्यूटी ,हेल्थ और किचन के लिए भी उपयोगी है जानिए इसके बेहतरीन फायदे -ICE BENEFITS FOR BEAUTY,HEALTH AND KITCHEN

जून 12, 2017 0 Comments
बर्फ का नाम सुनकर ही गर्मियों में ठंडी का अहसास होने लगता है गर्मियों में कोई भी ड्रिंक बर्फ के बिना पूरी नहीं होती जहाँ बर्फ गर्मियों में शरीर को ठंडक देती है वहीँ इसके कुछ ऐसे उपयोगी फायदे भी है जो हमारी ब्यूटी ,हेल्थ और किचन के लिए बहुत ही फायदेमंद है तो चलिए इस गर्मी इन बेहतरीन उपायों को अपनायें




किचन के लिए उपयोगी टिप्स-

  • आइसिंग करते समय चाकू को बीच बीच में बर्फ के पानी में भिगोने से आइसिंग आसान हो जाएगी 
  • क्रीम फेंटते समय क्रीम वाले बर्तन के नीचे बर्फ रकफ दें तो क्रीम ज्यादा मात्रा में बनती है 
  • आम को कुछ देर बर्फ के पानी में रहने के बाद छिलका निकले आसानी से निकल जाता है 
  • फ्रीजर में प्लास्टिक शीट बिछाये इससे बर्फ की ट्रे आसानी से निकल आएगी 
  • बर्फ ज़माने के लिए उबले हुए पानी को ठंडा करके इस्तेमाल करें बर्फ जल्दी और पारदर्शी जमेगी 
  • बर्फ में चुटकी भर नमक डाल दें इससे बर्फ लेट तक पिघलती नहीं है 
  • मलाई में खूब सारा बर्फ का पानी डाल कर फेंटने से जल्दी मक्खन बन जाता है 
  • आलू और बैंगन को काटकर बर्फ के पानी में रखने से वो काले नहीं होंगे 



हेल्थ के लिए उपयोगी  टिप्स -
  • अगर खून का बहना नहीं रुक रहा हो तो चोट पर बर्फ मलने से तुरंत बंद हो जायेगा 
  • शरीर में कही सूजन है तो उस स्थान पे बर्फ से २-३ बार सिकाई करने से सूजन ठीक हो जाएगी
  • अगर जी मिचला रहा है और बार बार उलटी हो रही है बर्फ चूसे राहत मिलेगी 
  • अगर लू लग गयी है तो हाथ पेरो में बर्फ मलने से इसका असर कम होता है 
  • अगर हथेली या पेरो में जलन है तो कुछ देर उस जगह पर बर्फ रगड़ने से जलन में राहत मिलती है 
  • अगर काँटा चुभ जाये और निकलने में तकलीफ हो तो बर्फ को उस जगह मलने से जगह सुन्न हो जाती है और काँटा आसानी से निकला जा सकता है 


ब्यूटी के लिए उपयोगी टिप्स-

  • फेस पर नियमित बर्फ मलें इससे झुर्रिया नहीं पड़ेगी और स्किन में कसाव आता है 
  • लिपस्टिक लगाने से पहले होंटो पर बर्फ मलने से लिपस्टिक बहुत देर तक लगी रहती है और फैलती भी नहीं है 
  • थ्रेडिंग या वैक्सिंग करने से पहले उस जगह बर्फ लगाए बाल आसानी से निकल जायेंगे और दर्द भी कम होगा 
  • ब्लीच करवाने से पहले चेहरे पर बर्फ मलने से रेशेज नहीं पड़ते 
  • मेकअप करने से पहले बर्फ रगड़े तो मेकअप बहुत देर तक टिका रहेगा और पसीना भी नहीं आएगा 
  • सनबर्न से स्किन काली हो गई हो तो बर्फ रगड़ने से सनबर्न  ख़तम हो जाता है 

शुक्रवार, 9 जून 2017

गर्मियों में लम्बे बालों की देखभाल के लिए इन टिप्स को अपनाएं - SUMMER CARE TIPS FOR LONG HAIR

जून 09, 2017 0 Comments

गर्मियों में बालों को एक्स्ट्रा केयर की जरुरत होती है नहीं तो वे बेजान नजर आने लगते है साथ ही अन्य कई समस्या भी सामने आने लगती है गर्मियों में आपको अपने बालों का खास ध्यान रखना चाहिए और पॉसिबल हो तो तेज धुप में घर से बहार न निकले या अगर जरुरी काम से बहार जाना हो तो स्कार्फ़ या हैट से बालों को अच्छे से कवर करके ही निकले और साथ ही दिए गए टिप्स को भी अपनाये






1.गीले बालों में कभी कंघी न करें और न इसे खींचे धीरे धीरे बाल सुलझाएं जिससे ये टूटने से बचेंगे

2.हेयर ब्रश की वजाय चौड़ा कंघा इस्तेमाल करे जिससे आसानी से बाल सुलझ जायेंगे

3.किसी बीच या पूल में जाने के बाद शावर चलकर नॉर्मली बालों को जरूर धोये और नेचुरल ड्राई शैंपू का इस्तेमाल करें

4.हानिकारक किरणों से बालों को बसाहने के लिए हीट प्रोटेक्टर हेयर स्प्रे का इस्तेमाल करें यह बालों को नुकसान होने से बचाता है

5.नारियल और जैतून के तेल बालों के लिए बहुत फायदेमंद होते है ये आसानी से जड़ो में समाकर बालो को फायदा पहुंचते है इसलिए बालों को जड़ो से लेकर सिरे तक अच्छे से तेल लगाकर मसाज करें और फिर बाल धोकर कंडीशनर लगाए

6.अगर आपके बाल बहुत उलझते है तो रत को बालों में लीव इन कंडीशनर लगाकर टॉवेल से लपेटकर  छोड़ दें
7.गर्मियों में हीट प्रोडक्ट का इस्तेमाल न ही करें तो बेहतर है ये बालों के लिए नुकसानदायक होते है

8.हर ४ से ६ हफ्ते में बालों की ट्रिंमिंग करवाए इससे आप स्प्लिट हेयर से भी बच सकती है

9.हर बार बाल धोने के बाद कंडीशनर जरूर लगाए जिससे आपके बाल स्मूथ रहेंगे

10.बालों में सीरम भी जरूर लगाए ये बालों को एक कोटिंग प्रदान करता है जिससे बालों की सूर्य की UV किरणों से और हानिकारक तत्वों से सुरक्षा होती है और बाल आसानी से सुलझ भी जाते है

11.एक ही तरह से डेली बालों को न बांधे और न ही कसकर बालों को पोनी टेल करें इससे बालो को नुकसान पहुँचता है

12.आजकल बाजार में केमिकल युक्त शैम्पू ,कंडीशनर और अन्य प्रोडक्ट्स आ रहे है जो बालों की सुंदरता छीनकर उन्हें रूखा और बेजान बना देते है इसलिए हमेसा हर्बल या होम मेड प्रोडट्स का ही इस्तेमाल करना चाहिए

13.औषधि युक्त कोई शैम्पू इस्तेमाल कर रहे है तो बालों में लगाने के तुरंत बाद धो लें इसे लगाकर न रखे न ही बालों में फैलने दें

14.सप्ताह में ३ बार शैम्पू जरूर करें और माइल्ड शैम्पू का ही इस्तेमाल करें

15.बाल धोने से पहले रत को तेल जरूर लगाए जिससे बाल स्मूथ दिखेंगे

बालों को गर्मी और धूप की नजर न लगने दे इन टिप्स को अपनाकर गर्मियों में भी खूबसूरत बाल पाएं -SUMMER SPECIAL TIPS FOR HAIRS

जून 09, 2017 0 Comments

गर्मियों का मौसम बाल और स्किन के लिए अच्छा साबित नहीं होता तेज धूप गर्मी पसीने से बालों पर असर पड़ता है जिससे वो झड़ने लगते है सूरज की किरणे वालो के लिए नुकसानदायक होती है इसलिए अक्सर गर्मिया आते ही बालों से जुडी समस्या सामने आती है जैसे बाल टूटना,बेजान होना ,बालों की चमक खोना ये सारी समस्या धूप और गर्मी की वजह से उत्पन्न होती है इसलिए आज हम कुछ ऐसे टिप्स देखेंगे जैसी मदद से आप अपने बालों को गर्मियों में भी खूबसूरत रख सकती है







माइल्ड शैम्पू का इस्तेमाल -गर्मियों के मौसम में पसीना बहुत आता है जिस कारन बाल चिपचिपे हो जाते है इसलिए सप्ताह में ३ दिन बालों को माइल्ड शैम्पू से धोये ज्यादा बेहतर होगा अगर आप हर्बल शैंपू का इस्तेमाल करें शैंपू का इस्तेमाल कम मात्रा में करना चाहिए और तब तक धोना चाहिए जब तक शैम्पू निकल न जाये डैंड्रफ होने के कारन भी बाल झड़ने लगते है इसलिए सप्ताह में सिर्फ एक बार एंटी डैंड्रफ शैम्पू का इस्तेमाल करें


कंडीशनर का इस्तेमाल- कंडीशनर बालों को माइल्ड रखता है इसलिए कंडीशनर का उपयोग जरूर करना चाहिए कंडीशन की जगह आप हर्बल प्रोडक्ट्स का भी इस्तेमाल कर सकती है और आप घरेलु चीजों से भी कंडीशनर कर सकती है जैसे अंडे का सफ़ेद भाग और हिना बालों के लिए बहुत अच्छे कंडीशनर साबित होते है


हेयर स्टाइल को कहे न -गर्मियों के दिनों में बालों को छोटा ही रखे बालों को कसकर बांधने से पसीना बढ़ता है और बाल चिपचिपे हो जाते है इसके कारन बाल झड़ने भी लगते है हो सके तो गर्मियों में बालों को छोटा करा ले जिससे आपकी समस्या भी कम होगी और आपको नया लुक भी मिलेगा


संतुलित आहार -स्वस्थ बाल ही खूबसूरत नजर आते है और प्रोटीन बालों के लिए बहुत जरुरी है इसलिए फलो और प्रोटीन युक्त भोजन को प्राथमिकता दें दिन भर में ज्यादा से ज्यादा पानी पिए अंडे ,गाजर ,साबुत अनाज ,हरी सब्जिया, बादाम,लौ फैट डेरी प्रोडक्ट्स इन सारी चीजों का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें इनके उपयोग से बाल चमकदार बनते है


प्रोटीन ट्रीटमेंट -बालो की ख़ूबसूरती के लिए प्रोटीन ट्रीटमेंट बहुत जरुरी है अगर आप घने और लम्बे बाल चाहते है तो सप्ताह में ३ से ४ बार अपने बालों को यह ट्रीटमेंट दे इसके लिए एक कटोरी में अंडे को फेटे और गीले बालों में १५ मिनट के लगाए फिर गुनगुने पानी से बाल धो ले


बालों की सुरक्षा -गर्मी से बचने के लिए लोग स्विमिंग करना स्टार्ट कर देते है या बीच पर जाने का प्लान बनाते है जिससे गर्मी से रहत मिल सके परन्तु पानी में मौजूद क्लोरीन बालों के लिए नुकसानदायक होता है जो बालों को प्राकर्तिक चमक ख़तम कर देते है इसलिए पानी से आने के बाद स्मूथनिंग पैक लगाए और शैम्पू और कंडीशन करें





बुधवार, 7 जून 2017

डेली पीने वाली चाय के ये बेहतरीन फायदे नहीं जानते होंगे आप -BENEFITS OF TEA

जून 07, 2017 0 Comments
चाय के नाम से हम सभी बहुत अच्छे से वाकिफ होंगे सबके घरो में डेली चाय बनना आम बात है सर्दियों में तो चाय पीने का मजा ही कुछ और है कई बर्षो पहले तक हम सिर्फ एक चाय के बारे में जानते है जो हमने अपने घरो में अक्सर बनते देखी थी परन्तु अब तो बहुत तरह की चाय  बनने लगी है लेमन टी, ग्रीन टी, ब्लैक टी, हर्बल टी और भी कई प्रकार की ये चाय सेहत के लिए फायदेमंद होती है आज हम चाय के बहुत ही अच्छे और महत्वपूर्ण फायदों के बारें में जानेंगे




बालों को रखे शाईनी - अगर आप बालों में अच्छी शाइन चाहतेहै तो ग्रीन टी का इस्तेमाल करें काली चाय और ग्रीन चाय दोनों एक ही पेड़ पर उगती है परन्तु ग्रीन टी को ऑक्सीडाइज नहीं किया जाता जिससे इसकी पत्तियों में इलेक्ट्रान ज्यादा होते है जो बालों को शाइन देते है
बालों में शाइन के लिए गर्रेन टी के ३ बेग एक जग बॉयल्ड पानी में डाले और ठंडा होने दें फिर निकलकर उस पानी से बाल रिंस करें आप देखेंगे की आपके बालों में गजब की शाइनिंग दिखाई देगी आप अपने बालों को डार्क ब्लैक कलर भी दे सकती है इसके लिए आपको ग्रीन टी की जगह ब्लैक टी का इस्तेमाल करना होगा


  आँखों की ख़ूबसूरती के लिए -अगर आपकी आँखे थोड़ी सूजी हुई है तो परेशां न हो इस्तेमाल किये गए २ टी बेग को अपनी आँखों पर कुछ देर रखे स्ट्रेस ,एलेर्जी,शराब या हार्मोनल चेंज की वजह से आंखे सूज जाती है चाय में पाए जाने वाले कैफीन सूजी हुई आँखों की नस को स्किन में दबा देती है और आपकी आंखे ठीक हो जाती है १० मिनट तक दोनों टी बेग अपनी आँखों पर रखे और हटा लें बस आपकी आंखे ठीक हो जायँगी



गंदगी साफ़ करने में -अगर आपके घर का कार्पेट गन्दा हो गया है तो चाय से आप उसको भी साफ़ कर सकती है थोड़ी सी खुली चाय ले और कार्पेट पर हलकी सी परत की तरह फैला दे और केतली से थोड़ा सा पानी डालें और कार्पेट पे घिस दे कार्पेट की धुल और गन्दी स्मेल दूर हो जाएगी


सनबर्न से बचने के लिए -अगर आप लम्बे समय तक धुप में काम करते है तो आपकी स्किन पर सनबर्न होना लाजमी है अगर ऐसा हो गया है तो ठन्डे टी बेग को लेकर उस जगह रख दें जहा की स्किन प्रभाबित हो गई है आपको तुरंत रिजल्ट दिखाई देगा


शेविंग रैश हटाए -अगर आपके अंडरआर्म या पेरो में शेविंग रैश हो गए है तो शेविंग के बाद ५ मिनट भीग टी बेग अंडरआर्म में दबाकर रखे इससे ये चला जायेगा शेविंग रैश ख़राब ब्लेड के इस्तेमाल से होते है जहा ये प्रॉब्लम है टी बेग यूज़ करें

गुलाब खिलाएं -चाय की पट्टी में टैनिन एसिड होता है जो गुलाब को रंग और सुंदरता देता है इस्तेमाल किये टी बेग को फाड़कर गुलाब की जड़ में डाल दे इससे गुलाब का पौधा खिल उठेगा और उनकी संख्या में बृद्धि होगी

इंग्जेक्शन का दर्द भगाये -अगर आपको इंग्जेक्शन लगा है और दर्द हो रहा है तो उस जगह पर ठंडा टी बेग रखे स्किन सॉफ्ट हो जाएगी और दर्द गायब और किसी तरह का इन्फेक्शन भी नहीं होगा

मुहांसे मिटाये -अगर आपके फेस पर बहुत दाग धब्बे और मुहांसे है तो ग्रीन टी अच्छा ऑप्शन है इसमें बेंजॉइल परॉक्साइड होता है जो मुहांसो को आने से रोकता है और दाग भी दूर करता है ग्रीन टी में कॉटन भिगोकर चेहरे पर लगाए

पेरो की बदबू दूर करें -गर्मियों में दिन भर शूज पहने रहने के कारण पैरों से बड़बो आने लगती है या स्किन की समस्या भी हो जाती है इससे बचने के लिए गुनगुने पानी में टी बेग डालें और ठंडा होने पर इसमें पैर डालकर बैठ जाएँ पसीने की बदबू भी चली जाएगी और पेडीक्योर भी हो जायेगा जिससे आपके पैर मुलायम हो जायेंगे
                   

 

हेयर रिबॉन्डिंग करवाने जा रही है तो मनचाहा रिजल्ट पाने के लिए इन टिप्स को जरूर फॉलो करें -- HAIR REBONDING

जून 07, 2017 0 Comments
आप भी सेलेब्रिटीज़ के खूबसूरत बालों को देख कर सोचती होगी की काश मेरे बाल भी ऐसे ही खूबसूरत और सिल्की होते तो जानिए हेयर रिबॉन्डिंग को बालों को सुन्दर ,शिल्की,स्मूथ बनाए के लिए हेयर रिबॉन्डिंग आजकल काफी प्रचलित है इससे आपके बाल पहले से काफी बेहतर हो जाते है और बार बार पार्लर के झंझट से भी मुक्ति मिल जाती है हेयर रिबॉन्डिंग के बाद ज्यादातर केस में सुनने को मिलता है की जैसा चाहते थे वैसा रिजल्ट नहीं मिला इसके पीछे कई बार हमारी गलती भी हो सकती है हेयर रिबॉन्डिंग करवाने के बाद कुछ बातो का बिशेष ध्यान रखने की जरुरत होती है आइये जानते है उन साबधानियों के बारे में 






क्या है हेयर रिबॉन्डिंग - हेयर रिबॉन्डिंग एक केमिकल ट्रीटमेंट है इसलिए किसी एक्सपर्ट से ही करवाएं रिबॉन्डिंग से बाल स्मूथ और शाईनी हो जाते है और बिलकुल स्लीक और स्ट्रेट हो जाते है इसके बाद हमेशा बाल खूबसूरत दिखाई देते है इसका परिणाम ६ महीने तक बना रहता है और बार बार पार्लर जाने से मुक्ति मिल जाती है इसलिए रिबॉन्डिंग ट्रीटमेंट अच्छा माना जाता है

हेयर रिबॉन्डिंग के बाद रखी जाने वाली सावधानिया-

बालों को खुला छोड़े - रिबॉन्डिंग करवाने के तुरंत बाद बालों को बांधकर न रखे ३ दिन तक बालों को खुला ही रहने दे अपने बालो को कान के पीछे भी टक न करें वरना बालों में निशान आ जायेंगे


बालों को गीला न करें-रिबॉन्डिंग करवाने के बाद ध्यान रखे की बाल गीले न हो पाएं ३ दिन टक बालों में पानी नहीं लगाना है जिससे बेहतर परिणाम मिलेंगे इन ३ दिन में केमिकल आपके हेयर्स में अच्छे से समां जायेगा और आपको लम्बे समय टक अच्छा परिणाम दिखेगा


सोते समय रखे सावधानी -३ दिनों टक आपको सावधानी से सोना होगा सोते समय बालो को सर के नीचे न आने दे उन्हें एकदम स्ट्रेट अपने पिलो पर फैला दे या नीचे लटका कर ही सोएं इससे आपके बालों में निशान नहीं पड़ेंगे



 शैम्पू और कंडीशनर -३ दिन टक बाल नहीं धोना है उसके बाद एक अच्छे शैम्पू से बाल धोये और अच्छा कंडीशनर लगाए कंडीशनर को पूरे बालों की लम्बाई में नोक तक लगाए और छोड़ दे उसके बाद धो ले सप्ताह में एक बार अच्छे से कंडीशनर जरूर करें


हेयर मास्क का प्रयोग -सप्ताह में एक बार हेयर मास्क लगाना आपके बालों की चमक बढ़ा सकता है मास्क को कुछ समय के लिए लगाकर छोड़ दे फिर अच्छे से धोकर  सूखा लें इससे आपके बाल खूबसूरत बनते है


 उपकरणों का उपयोग न करें -रिबॉन्डिंग करवाने के बाद किसी भी उपकरण का उपयोग न करे प्राकर्तिक तरीके से बालों को सुखाये या कूल हेयर ड्रायर से ही बाल सुखाये हलके हाथों से ब्रश करें इन सभी सावधानियों से आपके बाल लम्बे समय तक स्ट्रेट और खूबसूरत बने रहते है

बिज़नेस वूमेन बनने जा रही है तो जानिए वास्तु के हिसाब से जल्दी तरक्की करने के लिए कैसी हो आपके ऑफिस की बनावट -VASTUSHASTRA TIPS FOR NEW OFFICE

जून 07, 2017 0 Comments
हर महिला या पुरुष जो भी नया काम शुरू करते है उसको लेकर बहुत सारे प्लान करते है की  किस तरह का बिज़नेस या वर्क हो उसके अलावा ऑफिस को लेकर भी बहुत प्लानिंग होती है की किस तरह का डिजाइन बनवाया जाये और इसके लिए काफी पैसा भी खर्च होता है आजकल तो बड़े बड़े इंटीरियर डिजाइनर को ऑफिस बनवाने के लिए मोटी रकम देकर बुलवाया जाता है जिससे उनकी कमाई में बृद्धि हो परन्तु अगर आप जल्द ही तरक्की चाहते है तो आपको वास्तु के हिसाब से अपने ऑफिस को डिजाइन करवाना चाहिए  आप अपना पार्लर, BOUTIQE  या कोई अन्य बिज़नेस डाल रही है तो नीचे दिए गए  इन टिप्स को ध्यान में रख के ही ऑफिस बनवाये जिससे आप जल्द से जल्द तरक्की करें और अपने सपने पूरे कर सकें




रिसेप्शन के लिए - ऑफिस का रिसेप्शन उत्तर दिशा में ही बनवाएं यह दिशा आपके रिसेप्शन के लिए बहुत ही शुभ होती है 

सिटींग अरेंजमेन्ट -ऑफिस में आने वाले विसिटोर्स के लिए आपको सिटींग अरेंजमेन्ट पक्षिम दिशा में करना चाहिए इससे बहुत लाभ होगा 

अकाउंट डिपार्टमेंट -ऑफिस के अकाउंट डिपार्टमेंट का फेस पूर्व दिशा में बनवाये ये अच्छा मन जाता है 
मार्केटिंग स्टाफ  - मार्केटिंग स्टाफ के सिटिंग के लिए उत्तर -पक्षिम दिशा रखे इससे मार्केटिंग में लाभ होगा और सकारात्मक परिणाम मिलेंगे

 मैनजमेंट -दक्षिण -पक्षिम दिशा में ऑफिस के टॉप मैनजमेंट के लिए सिटिंग व्यवस्था बेस्ट है

स्टोरेज -ऑफिस की जरुरी फाइल कागजात या अन्य चीजों को रखने के लिए दक्षिण दिशा चुने

 टॉयलेट - टॉयलेट ऑफिस के पूर्व या उत्तर दिशा की दीवार  पर बिलकुल न बनवाये वरना हानि होना संभव है

पार्लर, बूटिक,शॉप ,ऑफिस की बनावट के लिए कुछ जरुरी टिप्स-


ऑफिस का दरवाजा खोलते या बंद करते समय किसी तरह की आवाज नहीं आनी चाहिए यह अशुभ संकेत होता है

ऑफिस की डस्टबिन ढके होने चाहिए जिससे नेगेटिव एनर्जी वातबरण को दूषित न करे

ऑफिस के मैन दरवाजे के सामने कभी भी मिरर न लगाए ये अशुभ है

ऑफिस के लिए आयताकार या गोलाकार फर्नीचर ख़रीदे किनारे वाले फर्नीचर न बनवाये ये नगातुवे एनर्जी की स्त्रोत है

रिसेप्शन काउंटर बहुत ऊँचा नहीं होना चाहिए इस पर कंपनी का लोगो भी न लगवाए ये अशुभ माना जाता है 

मंगलवार, 6 जून 2017

जानिए क्यों सिर्फ पुरुष ही नहीं बल्कि वर्कआउट के बाद महिलाओं के लिए भी प्रोटीन शेक जरुरी है -BENEFIT OF PROTEIN SHAKE FOR WOMEN

जून 06, 2017 0 Comments
हमेशा से माना जाता रहा है की प्रोटीन शेक सिर्फ लड़को के लिए जरुरी होता है क्यूंकि लड़को को अपनी बॉडी बनानी होती है परन्तु ऐसा नहीं है प्रोटीन की जरुरत लड़का हो या लड़की सभी को  होती है लेकिन लड़कियों को लड़को के मुकावले कम प्रोटीन शेक की जरुरत होती है प्रोटीन महिलाओं के शरीर के लिए भी बहुत जरुरी है क्यंकि इससे ही मासपेशियो का निर्माण होता है इसके अलावा लगभग ७५% शरीर का हिस्सा केवल प्रोटीन से बनता है प्रोटीन की जरुरत की पूर्ति के लिए प्रोटीन शेक आहार की तुलना में जल्दी असर दिखता है डिब्बाबंद प्रोटीन शेक की जगह आप घर पर ताज़ा फलो जूस भी पी सकते है 





न्यूट्रिशन सप्लीमेंट -

प्रोटीन शेक को न्यूट्रिशन सप्लीमेंट भी कहा जाता है आप अपने ब्रेकफास्ट के साथ प्रोटीन शेक को नहीं पी सकते बल्कि आप उसको ब्रेकफास्ट के बाद पीजिये घर पर ताजे फलो से बनाये गए प्रोटीन शेक को पिने से शरीर को भरपूर मात्रा में मिनरल,विटामिन,प्रोटीन मिलता है इसके नियमित इस्तेमाल से जितनी जरुरत होती है उतनी कैलोरी की पूर्ति हो जाती है इसके अलावा यह महिलाओं के ब्लड,स्किन,हड्डिया और मासपेशियो के लिए बहुत जरुरी है


वजन घटाने के लिए -

जिन महिलाओं को अपना वजन कम करना है उनको नियमित प्रोटीन शेक पीना चाहिए बहुत सारे रिसर्च से पता चला है की प्रोटीन शेक के सेवन से वजन को आसानी से कम किया जा सकता है प्रोटीन शेक लेने वाली महिलाये बाकि महिला के मुकावले ज्यादा अच्छी दिखती है और वजन भी लगभग १२ महीनो में ही घटा लेती है इसके अलावा बीमार भी कम पड़ती है

इंस्टेंट एनर्जी के लिए -

खाने की तुलना में प्रोटीन शेक महिलाओं को तुरंत ऊर्जा देता है वर्कआउट के बाद जितनी तेजी से प्रोटीन आपके शरीर में पहुंचेगा उतनी जल्दी उसका असर होगा वर्कआउट के बाद अगर आप प्रोटीन शेक पीती है तो ये आधे घंटे के अंदर असर दिखाना शुरू करता है वहीँ दूसरी तरफ खाने में पाए जाने वाले प्रोटीन १घन्टे के बाद असर दिखाना शुरू करते है

वर्कआउट के बाद जरुरी है -

जो महिलाये नियमित वर्कआउट करती है उनके लिए प्रोटीन शेक बहुत जरुरी है क्यूंकि जब बहुत EXERSICE हो जाती है उसके बाद मासपेशियो में दरार आ जाती है इसको भरने और रिपेयर करने के लिए प्रोटीन का इस्तेमाल जरुरी है इसलिए वर्कआउट के बाद जल्दी ही प्रोटीन शेक लें

बीमारियों से बचाता है -

प्रोटीन शेक के इस्तेमाल से आप खतरनाक बीमारियों से भी बच सकती है व्यस्तताओं के चलते आप अपने खान पान पर ढंग से ध्यान नहीं दें पाती है जिसके कारन शरीर में प्रोटीन की कमी हो जाती है जिसके चलते दिल की बीमारिया ,किडनी की बीमारिया होने का खतरा अधिक होता है प्रोटीन शेक आपके भोजन की ये कमी पूरी करता है साथ ही बीमारी से भी बचाता है

स्तनों के आकाऱ को बढाने के लिए कारगर उपाय-SOLUTION FOR SMALL BREASTS

जून 06, 2017 0 Comments
बहुत सारी लड़किया और महिलाये अपने स्तनों के आकार को लेकर चिंतित रहती है बड़े ब्रेस्ट जिस प्रकार महिलाओं के लिए समस्या होते है उसी प्रकार छोटे ब्रेस्ट भी महिलाओं कि चिंता का कारण होते है अधिक छोटे ब्रेस्ट के कारण न कोई ड्रेस अच्छी लगती है न सेल्फ कॉन्फिडेंस रहता है हमेशा एक निराशा सी रहती है और हीन भावना घर कर जाती है बड़े स्तनों को छोटे करने के उपाए हमने अपनी पिछली पोस्ट में बताये थे जिसे आप इस लिंक पर क्लिक करके देख सकते है
 http://www.womenhindiguide.com/2017/06/solution-for-heavy-breast-problem-in.html#links
इस पोस्ट में हम सुरक्षित तरीके से ब्रेस्ट साइज को बढ़ाने के लिए कुछ टिप्स बतायेंगे जिनको अपनाकर आप अपना खोया हुआ आत्मविश्वास वापस पा सकेंगी


स्तन का आकर बढ़ाने के लिए सबसे पहले आपको सही तरीके से पुश अप करना जरुरी है जिससे ब्रेस्ट पर प्रेशर पड़े और उसका आकार बढे इसके लिए आपको किसी एकिपमेंट की जरुरत नहीं बस नीचे दिए गए चित्र की तरह जमीन पर लेट कर पुश अप करें




इस प्रकार से आपको दिन भर में ३ बार १५-१५ पुश अप करना है

हर रोज रात को सोने से पहले बादाम के तेल से अपने ब्रेस्ट की ५ से १० मिनट तक  मालिश करें

२ चम्मच प्याज़ का रस १/४ चम्मच हल्दी और १ चम्मच  सहद मिलकर लेप बनाये और अपने ब्रेस्ट की गोलाई में मालिश करें

डेली समय पर खाना खाये पौष्टिक भोजन करें हरी सब्जिया अंकुरित अनाज ज्यादा मात्रा में सेवन करें

अगर आपका वजन बहुत ही कम है तो आपको ब्रेस्ट बढ़ाने के लिए वजन भी बढ़ाना होगा दूध,दही,घी को अपने भोजन में शामिल करें

सेम ,मटर ,सोयाबीन का उपयोग करें ये ब्रेस्ट के ऊतक के विकास में सहायता करेगा

विटामिन युक्त चीजे खाये इससे आकार में बृद्धि होती है


ब्लड की कमी अगर है तो उसको दूर करने के लिए खजूर,किसमिश ,चुकंदर,पालक,पत्तागोभी,शकरकंद खाये इससे कुछ समय में आपको फ़र्क़ दिखने लगेगा

इस बात का भी ध्यान रखे की आपके पीरियड्स नार्मल आएं अनियमित पीरियड्स की वजह से भी स्तनो का विकास नहीं हो पता

हर दिन अपने ब्रेस्ट की मालिश करें

तनावमुक्त रहे और अपनी पसंद के काम करें बार बार इस समस्या पर ध्यान न दें

इस प्रकार से आपके स्तनों का विकास होने लगेगा और अगर आपके स्तनों का विकास धीमी गति से हो रहा है तो चिंता न करें हर किसी में ये फ़र्क़ अलग होता है बाकी माँ बनने के बाद ब्रेस्ट का आकार अपने आप ही बढ़ जाता है

सोमवार, 5 जून 2017

अगर आप भारी स्तन या Heavy breast से परेशान है तो ये उपाय अपनाये और सुडोल स्तन पाएं-SOLUTION FOR HEAVY BREAST PROBLEM IN HINDI

जून 05, 2017 0 Comments
स्तन महिला के लिए एक बिशेष महत्व रखते है स्त्री की ख़ूबसूरती के लिए स्तनों का सही आकार में होना जरुरी है जहाँ एक और अत्याधिक बड़े स्तन शर्मिंदगी का कारण बनते है वही अधिक छोटे भी निराशा का कारण होते है और ये एक ऐसी समस्या है जिस पर कोई भी महिला हर किसी से खुल कर बात नहीं कर सकती स्तनों का आकर यदि अधिक बढ़ जाता है तो महिला को रीढ़ की हड्डी और कंधे में दर्द की समस्या उत्पन्न हो जाती है और इन्हे लेकर बहार आने जाने में शर्म का अहसास भी होता है साथ ही कपड़ो की वरिटी में भी समझौता करना पड़ता है आइये आज हम इस मुद्दे पर विचार करते है कि किस प्रकार इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है



सबसे पहले अगर आप मोटापे से ग्रस्त है तो आपको अपना वजन कम करने कि जरुरत है बिना वजन कम किये मोटी महिलाओं का ब्रेस्ट आकार कम नहीं हो सकता 

सही फिटिंग कि ब्रा पहनिए सही फिटिंग कि ब्रा से आपको ब्रेस्ट लूज़ होने कि समस्या से भी मुक्ति मिलेगी और इससे स्तन का सही साइज बना रहेगा अगर आपके स्तन हैवी है तो आप बढे कप साइज कि ब्रा ख़रीदे जिससे ये पूरी तरह कवर हो सकें 

हर दिन CARDIO EXERSICE  के लिए टाइम निकले इससे पूरे शरीर का वजन कम होगा तो ब्रेस्ट साइज अपने आप कम हो जायेगा अगर आपके आस पास कार्डिओ कि फैसिलिटी नहीं है आप घर पर भी ये कर सकते है बिपासा बासु का वीडियो यूट्यूब से डाउनलोड कीजिये और स्टार्ट हो जाइये 

साइकिलिंग और ब्रिस्क वाक करने से भी ब्रेस्ट साइज कम होता है 

आप ऐसे डांस स्टेप या मूव्स कीजिये जिससे आपके छाती के हिस्से में मूवमेंट हो इससे ब्रेस्ट साइज जल्दी कम होगा

मसाज भी एक विकल्प है ब्रेस्ट साइज कम करने का परन्तु इसमें समय बहुत लगता है 

आप डंबल EXERSICE  करें उससे जल्दी फ़र्क़ पड़ेगा 

पुश उप भी ब्रेस्ट कम करने का कारगर तरीका है आप वाल पुश उप भी कर सकते है दीवार के सहारे खड़े हो जाये और दीवार हो दोनों हाथो से धकलने कि कोशिश करे इससे आपके ब्रेस्ट पर प्रेशर पड़ता है और आकार कम होने लगता है 

अदरक और एक चम्मच शहद मिलकर पिए इससे भी स्तन कि चर्बी कम होती है 

दिन भर में २ बार ग्रीन टी पीने कि आदत डाले जो स्तन आकार कम करने में मदद करेगी 

वीक में २ बार अंडे का सफ़ेद भाग और एक चम्मच प्याज़ का रस मिलाकर पिए इससे कठोरता आएगी और साइज कम होगा 

एक मुट्ठी नीम के पत्ते उबालकर इसमें थोड़ी हल्दी और एक चम्मच शहद  मिलाकर पानी के साथ खाने से भी कुछ सप्ताह में फ़र्क़ दिखेगा 

खाना टाइम पर खाये और पेट भरने से थोड़ा कम खाये

जंक फ़ूड ऑयली फ़ूड और मीठा कम खाये 

फाइबर युक्त भोजन अधिक करे और डेली व्यायाम करने कि आदत डालें 

इसके अलावा आप अर्धचक्रासन करें इससे भी अंतर पड़ेगा 

साथ ही तांबे के लोटे में रIत को पानी भरके रखे और सुबह इस पानी को पिए इससे साडी गंदगी साफ़ होगी और वजन कम करने में मदद मिलेगी

अगर आपकी समस्या आनुवंशिक है तो इसको एक हद तक ही कम किया जा सकता है 

शनिवार, 3 जून 2017

प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में कैसा हो स्त्रियों का आहार -PREGNANCY GUIDANCE

जून 03, 2017 0 Comments
प्रेगनेंसी के शुरुआत में महिला के स्वभाव और जीवनशैली में अनेक परिवर्तन आते है प्रेगनेंसी से पहले आप कुछ भी खाये पिए कोई चिंता नहीं होती परन्तु प्रेगनेंसी के बाद आपको अपने खाने पीने का पूरा ध्यान रखना पड़ता है क्यूंकि गर्भ में शिशु का आहार माँ से ही प्राप्त होता है अतः माँ को ऐसा भोजन करना चाहिए जिससे शिशु को पूरा पोषण प्राप्त हो सके और ऐसा भोजन करें जिससे शिशु को कोई नुकसान न पहुंचे आज हम ऐसे संतुलित भोजन के बारे में जानेंगे जिससे आपको और शिशु दोनों को पूरा पोषण मिल सके




 बढ़ते बच्चे की जरुरत के अनुसार हो भोजन -
प्रेग्नेंट महिला को ऐसा आहार लेना चाहिए जिससे गर्भ में पल रहे शिशु के लिए सम्पूर्ण पोषक तत्व मिल सके इसलिए महिला को चाहिए की वो शुरुआत में ही डाइट प्लान तैयार कर ले की किस प्रकार का खाना खाना है और किस प्रकार का नहीं इसके लिए आप अपने डॉक्टर से मिलके पूरी जानकारी प्राप्त कर लें साथ ही ब्लड और कैल्सियम बढाने वाले भोज्य पदार्थ अपने खाने में शामिल करें क्यूंकि प्रेगनेंसी के वक़्त खून की कमी या कैल्सियम की कमी से बहुत साडी समस्या उत्पन्न हो सकती है

फल और सब्जिया -

ताजा फल,फ्रोजेन सूखे रसीले फल और हरी सब्जिया भ्रूण के विकास के लिए बहुत जरुरी है इससे भ्रूण को पूरा पोषण मिलेगा और उसकी ग्रोथ में बृद्धि होगी प्रेगनेंसी के शुरुआती चरण में महिला को अपने आहार में पांचवा हिस्सा फ्रूट और सब्जियों का रखना चाहिए

प्रोटीन डाइट -

प्रोटीन प्रेग्नेंट महिला के लिए बहुत ही जरुरी है इससे प्रेगनेंसी में कोई परेशानी नहीं आती और महिला और शिशु दोनों स्वस्थ रहते है इसलिए महिला को शुरू में ही प्रोटीन की मात्रा ज्यादा लेना चाहिए लीन मीट,चिकन ,अंडा ,मछली, दाल और सोया प्रोटीन के अच्छे स्त्रोत है अतः इन्हे अपनी डाइट में शामिल करें

स्टार्च से भरपूर भोजन 

अनाज से बने आहार जैसे ब्राउन ब्रेड,पास्ता,चावल और आलू शुरू में महिला के लिए बेहद फायदेमंद है

डेयरी उत्पाद -

दूध,पनीर दही ये सरे पदार्थ पोस्टिक होते है और कैल्सियम का अच्छा स्त्रोत होते है ये महिला के स्वास्थ एवं शिशु के पोषण के लिए अच्छे होते है इससे महिला को डिलीवरी के वक़्त परेशानी भी काम होती है इसके अलावा समुद्री मछली .आयोडीन नमक और डेयरी प्रोडक्ट बच्चे के विकास और माँ के स्वास्थ दोनों के लिए आवश्यक है

फोलिक एसिड -

महिला को प्रेगनेंसी के शुरुआत में ही अतिरिक्त फोलिक एसिड के जरुरत होती है क्यूंकि फोलिक एसिड ऐसा इम्पोर्टेन्ट पदार्थ है जो NURALTUBE  बनाने के काम आता है इस NURALTUBE से ही आगे  चलकर बच्चे के दिमाग और रीढ़  की हड्डी का निर्माण होता है इसलिए शुरू में फोलिक एसिड लेना जरुरी है

मीठे और तैलीय भोजन से परहेज करें 

प्रेगनेंसी में महिला का मन अलग लग चीजे खाने का करता है ये हर महिला में अलग अलग हो सकता है कभी कुछ विशेष खाने का मन करता है परन्तु ऐसे में महिला को अधिक मीता और तैलीय भोजन नहीं करना चाहिए इस प्रकार के भोजन में किसी तरह का कोई विटामिन नहीं होता बल्कि ये शुगर और तेल की अधिक मात्रा से बना होता है जिसके कारण ये मोटापा और फैट  बढ़ाते  है अतः महिला को ऐसे पदार्थ की जगह  साबुत  अनाज दाल  मछली और दूध और DAIYRI उत्पाद का सेवन  अधिक करना चाहिए ऐसे भोजन से महिला और भ्रूण दोनों को पोषण मिलता  है और संतुलित भोजन और पोषिक  तत्व युक्त  खाना खाने से नार्मल  डिलीवरी के चांस  भी बढ़   जाते  है और माँ और शिशु  दोनों स्वस्थ रहते है















कुकिंग के इस स्पेशल गाइडेंस से बने किचन क्वीन -SPECIAL COOKING GUIDANCE

जून 03, 2017 0 Comments
क्या आप भी एक परफेक्ट किचन क्वीन बनना चाहती है जिससे घर के सभी सदस्य आपकी परफेक्ट कुकिंग और स्मार्टनेस की तारीफ करें उसके लिए आपको रोज की गयी कुकिंग को थोड़ा क्रिएटिव बनाना होगा और नीचे दिए गए गाइडेंस को फॉलो करना होगा




1.पूरी बनाते समय -
  • पूरी को क्रिस्पी बनाने के लिए आते में ब्रेड या पाव का चूरा मिलाये 
  • पूरी के आटे में थोड़ी सी पीसी मूंगफली मिलाये इससे स्वादिस्ट पूरी बनेगी 
  • पूरियो का स्वाद बढ़ाने के लिए आटे में थोड़ा सा बेसन या मैदा मिला दें 
  • पूरिया बेलते समय आटे की जगह थोड़ा आयल इस्तेमाल करें पूरी जल्दी फ्राई होगी
  • आलू पूरी बनाते समय आता गूथते टाइम उसमे थोड़ी सूजी (रवा ) और बारीक़ कटी हुयी मेथी मिलाये पूरी टेस्टी ,कुरकुरी बनेगी 
  • पूरियो को बेलने के बाद फ्रीज में रखे उसके बाद तले आयल कम लगेगा और क्रिस्पी बनेगी 

2.आलू की रेसिपी के लिए- 
  • आलू की टिक्की बनाते समय अगर टिक्की टूट जाती है तो एक पाव या ब्रेड स्लाइस को डेढ़ घंटे पानी में भिगो के निचोड़ लें और आलू में मिला दें इससे क्रिस्पी टिक्की बनेगी और टूटेगी भी नहीं 
  • आलू के चिप्स बनाते समय उबले आलू को छीलकर चिप्स काटे फिर फिटकरी के पानी में धोये इससे सफ़ेद चिप्स बनेंगे
  • आलू की टिक्की बनाते समय उसमे एक कच्चा केला उबालकर मैश करके डाले स्वादिस्ट टिक्की बनेगी 

3.करेला बनाते समय -
  • करेले की कड़वाहट को कम करने के लिए सब्जी बनाते टाइम इसमें इमली का पानी और थोड़ा कद्दूकस किया गुड़ डाले 
  • करेले की सब्जी में प्याज़ की मात्रा ज्यादा डाले कड़वाहट कम हो जाएगी
  • करेले की सब्जी में खटाई डालने से भी कड़वाहट कम हो जाती है 
  • सब्जी बनाते समय थोड़ी भुनी हुयी मेथी डाल दें 
  • करेले की कड़वाहट को कम करने के लिए करेले को छीलकर कुछ देर नमक मिले पानी ने डाल कर छोड़ दे फिर पानी निथारकर फ्रीज में रखे फिर सब्जी बनाये 

4.डीप फ्राई डिश बनाते समय -
  • किसी भी चीज को डीप फ्राई करने के लिए पहले ऑयल को अच्छी  तरह  गरम  करे  उसके बाद ही डालें  पैन या कढ़ाही में इतना तेल डाले की सामग्री अच्छे से डूब सके 
  • तलने के लिए धीरे धीरे सामग्री डाले एक साथ बहुत अधिक मात्रा में कुछ न डालें 
  • कड़ाही से निकलने के बाद प्लेट में पेपर लगाकर ही सामग्री निकले जिससे अतिरिक्त तेल निकल जाये 

5.सलाद बनाते समय -
  • फ्रूट सलाद बनाते समय उसके ऊपर से कला नमक छिड़क दे इससे टेस्टी सलाद बनेगा 
  • सलाद को और स्वादिस्ट बनाने के थोड़ी भुनी और पीसी मूंगफली डालें 
  • सब्जियों के सलाद को चटपटा बनाने के लिए लहसुन,मिर्च को काटकर डालने की जगह कूटकर डालें
  • सलाद को क्रिस्पी बनाए के लिए बाजार में मिलने वाले रेडीमेड नूडल्स डालकर मिलाये 
  • फ्रूट सलाद को टेस्टी बनाने के लिए उसमे थोड़ा शहद मिला लें 
  • टेस्टी सलाद बनाए के थोड़ा निम्बू का रस डालें 
  • थोड़ी से क्रीम में पिसी शक्कर मिलकर अच्छी तरह फेंटकर फ्रूट सलाद में डालकर मिलाये फ्रूट सलाद टेस्टी बन जायेगा 

6.पनीर की डिश बनाते समय -
  • पनीर के डिश बनाने से पहले पनीर को तलकर हल्दी मिले गरम पानी में भिगोकर रखे मुलायम पनीर बन जायेगा और रंग भी अच्छा आएगा
  • पनीर मसाला बनाते समय मसाले में थोड़ा पनीर मैश करके डाले 
  • पनीर की सब्जी का स्वाद बढ़ाने के लिए ऊपर से कद्दूकस किया चीज डालकर माइक्रोवेव में २ मिनट के लिए ग्रिल कर लें 
  • पालक पनीर बनाते समय पालक लो उबलते समय एक चम्मच शक्कर डाले और पालक बनने के बाद एक चम्मच निम्बू का रस इससे रंग और स्वाद दोनों बना रहेगा 
  • घर में पनीर बनाते समय उसका थोड़ा सा पानी बचाकर फ्रीज में रखे जब दोबारा पनीर बनाये तो उबलते दूध में ये पानी डालें पनीर अच्छा बनेगा
  • अगर ग्रेवी वाली सब्जी ज्यादा बनानी हो तो पनीर को कद्दूकस करके डाले गाढ़ी ग्रेवी बनेगी 
  • पनीर को ज्यादा दिनों तक ताजा बनाये रखने के लिए उसको तलकर कुछ सेकंड गर्म पानी में डाल दे जिससे पनीर जल्दी ख़राब नहीं होगा
  • पनीर की सब्जी ज्यादा टेस्टी बनाने के लिए ग्रेवी में काजू, खसखस का पेस्ट इलायची पाउडर डाले स्वादिस्ट सब्जी बनेगी 
  • पनीर की सब्जी बनाने से पनीर को मसाले या दही में मेरिनेट करके कुछ समय रखे जिससे पनीर में मसाले का स्वाद आजायेगा और सभी स्वादिस्ट लगेगी 

कुकिंग के इन इजी टिप्स को अपनाकर कुकिंग को आसान बनाये -COOKING GUIDANCE

जून 03, 2017 0 Comments
हाउस वाइफ महिलाओं का ज्यादातर वक़्त किचन में ही व्यतीत होता है और नास्ता,लंच,डिनर बनाना डेली रूटीन होता है वर्किंग महिलाओं को भी किचन में समय देना पड़ता है परन्तु काम की वजह से उन्हें जल्दी जल्दी सारे काम निपटाने पड़ते है ऐसे में कुकिंग में गलती होना बड़ी बात नहीं है आज हम कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे है जिससे आप कुकिंग को और इजी बना सकते है





1.अगर इडली या डोसे का घोल बच जाये तो उसके ऊपर पान का पत्ता डाल; दे इससे घोल खट्टा नहीं होगा

2.डोसा बनाने से पहले तबे पर प्याज़ काटकर रगड़ दे इससे डोसा क्रिस्पी बनेगा

3.थोड़ा सा शक्कर  मिलाने से भी डोसा ब्राउन और क्रिस्पी बनता है

4.लालमिर्च को मिक्सर में पीसने से पहले इसमें २-३ बूँद राइ का तेल मिलाये इससे पेस्ट का रंग ज्यादा लाल दिखाई देगा

5.आंच से उतरने के बाद भी कड़ाही गरम होने की वजह से खाना पकता रहता है इसलिए खाने को खासकर

6.चावल की डिश की ज्यादा पकने से बचाने के लिए उसको पूरी तरह पकने से पहले उतार ले

7.कुकर में आलू उबालते समय सिर्फ आधा कप पानी रखे साथ ही मध्यम साइज के आलू डाले जिससे वो जल्दी पक जाते है

8.अगर कोई चीज तलते तलते रंग गहरा हो जाये तो इसमें एक चम्मच वाइट विनेगर डाल दे और ढक कर रख दे इसके बाद थोड़ी देर बाद ढक्कन हटाकर तेल को छान ले इससे तेल साफ़ हो जायेगा

9.टमाटर को जल्दी पकाना है तो थोड़ा नमक और शक्कर डाल दे

10.दाल में चुटकी भर नमक डालने से दाल जल्दी पक जाती है

11.हरी पत्तेदार सब्जिया बनाते समय उसमे चुटकी भर शक्कर दाल दे सब्जी का रंग हरा ही रहेगा

12.कोई भी चीज ग्रिल करने से पहले ग्रिल पर नॉन स्टिक कुकिंग स्प्रे छिड़के जिससे चीज ग्रिल करते समय न चिपके

13.काजू बादाम या नट्स को फ़ूड प्रोसेसर में डालने से पहले उसमे थोड़ा सा आटा लगा लें इससे वो चिपकेगा नहीं

14.नॉन स्टिक पेन को गरम करने से पहले उसको नॉन स्टिक vegitable  आयल स्प्रे से कोट कर ले साथ ही इसको ३ मिनट से जयादा गरम न करे

15.अगर बड़ा बनाते समय बेटर ज्यादा पतला हो जाये तो उसमे एक चम्मच घी मिला दें

16.अगर आप सलाद को ज्यादा देर तक फ्रेश रखना चाहती है तो जिस ट्रे में सलाद रखना है उसको फ्रीज में बिलकुल ठंडी कर लें

17.पत्तागोभी की गंध को दूर करने के लिए पकाते समय उसमे तेज पत्ता डाल दे

18.पूरी को बेलकर १० मिनट के लिए फ्रीज में रख दे पूरी काम तेल सोखेगी साथ ही क्रिस्पी बनेगी

19.राजमा और उड़द की डाल बनाते समय इसमें नमक न डाले इससे उसको पकने में बहुत समय लगता है

20.हाथ पर लगा खाने का दाग हटाने के लये पहले कच्चे आलू की स्लाइस रगड़े फिर हाथ धो लें

शुक्रवार, 2 जून 2017

प्रेगनेंसी के दौरान कैसे सुरक्षित तरीके से कम करे अपना वजन -PREGNANCY GUIDANCE

जून 02, 2017 0 Comments
प्रेगनेंसी के वक़्त वजन बढ़ना बहुत ही normal बात है इस अवस्था ने १० से १२ किलो तक वजन बढ़ता ही है क्यूंकि खान पान और बदलाव के कारण शरीर में अतिरिक्त चर्बी एकत्रित हो ही जाती है वैसे इतना वजन बढ़ना आम बात है इससे आपको कोई परेशानी नहीं होगी परन्तु अगर आपका वजन पहले से ही बहुत ज्यादा है तो १०-१२ किलो बढ़ना आपके लिए मुश्किल पैदा कर सकता है डॉक्टर आपको जब इससे जुडी परेशानिया बताए है तो आप वजन कम करने की कोशिश में लग जाती है खाना कम करके या और किसी प्रयास से पर ये होने वाले बच्चे के लिए सुरक्षित नहीं है बच्चा माँ से जुड़ा हुआ है इस कारण उसको पोषण माँ से ही मिलता है अगर आप खाना कम कर देंगी तो शिशु पर असर पड़ेगा इसलिए आज हम कुछ ऐसे पॉइंट्स जानेंगे जिससे आप बिना किसी परेशानी से सुरक्षित तरीके से अपना वजन कम कर सकती है





  • सबसे पहले आहार बिशेष्ज्ञ से मिले और सलाह लें की प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए और कितनी मात्रा में 
  • जितना हो सके चलने का प्रयास करे ऐसी गतिविधि अपनाये जिसमे आपके पेरो का उपयोग ज्यादा हो 
  • सिका या तला हुआ खाना खाने की की जगह आप होल ग्रेन खाने पर ध्यान दे वाइट राइस की जगह ब्राउन 
  • राइस ब्राउन पास्ता ब्राउन ब्रेड दलिया चना फाफरा ऐसे आहार ले जिससे आपका वजन कम होगा 
  • पानी और बिना फैट का दूध पिए चाय कॉफी की मात्रा कम करे इससे आपकी हेल्थ पर नेगेटिव असर होता है और वजन भी बढ़ता है साथ ही बच्चे के लिए भी नुकसानदायक है  
  • पैकेज्ड फ़ूड से जितना हो सके दूर रहे इनमे कैलोरी और सोडियम बहुत अधिक होता है जो चर्बी के रूप में आपके शरीर को नुकसान पहुंचता है इससे वजन बढ़ता है और शरीर थुलथुला हो जाता है और इसमें कुछ हानिकारक तत्ब भी होते है इसलिए घर का बना हुआ तजा और गरम खाना ही खाये 
  • आलू और ब्रैड खाये पर उस पर मक्खन का उपयोग न करे 
  • फलो और सब्जियों का प्रयोग ज्यादा करे ये पोषक होते है और पूर्ण आहार होते है शरीर को नुकसान नहीं पहुंचाते और भरपूर फाइबर भी देते है 
  • अगर आप शराब या सिगरेट की आदि है तो इसे तुरंत छोड़ दे ये माँ और बच्चे दोनों की सेहत के लिए खतरनाक है 
  • दिन भर में  ८ से १० गिलास पानी पिए जिससे पानी की कमी नहीं होगी चाहे तो ग्रीन टी पि सकती है सेहत के लिए अच्छी है 
  • प्रेगनेंसी के वक़्त अलग अलग चीजे खाने का मन होता है जैसे आइसक्रीम, choclate , मीठा या कुछ और परन्तु इस तरह की लालसा पर रोक लगाने की कोशिश करे और इनकी जगह कोई अच्छा ऑप्शन चुने जिससे आपकी इच्छा पूरी हो जाये और नुकसान भी न हो 
  • अपने डॉक्टर से सलाह ले और उनके बताये गए व्यायाम जरूर करे १५-२० मिनट के व्यायाम आपको बहुत अच्छे नतीजे देंगे परन्तु ये डॉक्टर से कंसल्ट करके ही करे 
  •  प्रेगनेंसी में स्विमिंग सबसे अच्छा व्यायाम मन जाता है इससे आपको काफी रहत भी मिलती है एनर्जी भी आती है और रक्तसंचार भी ठीक होता है इसके अलावा पैदल चलना भी अच्छा होगा पर एक बार में २० से ३० मिनट ही चले फिर आराम करे 


डाइवोर्स लेने से पहले इन सारे पॉइंट्स पर विचार करें और सोच समझ के फैसला लें -Before taking the divorce, consider all these points and make a decision-

जून 02, 2017 0 Comments

कहते है रिश्ते ऊपर से जुड़ कर आते है सारी जोडिया भगवन खुद बनाते है तो फिर ऐसा क्या होता है जो बात तलाक तक पहुँच जाती है आपसी समझ की कमी एक दूसरे को वक़्त न देना रिस्तो को अहमियत न देना अपने आप में दोस्तों में मस्त रहना घर परिवार के प्रति अपनी जिम्मेदारी न निभाना ऐसी स्थति में दो लोगो का साथ रहना बहुत ही मुश्किल हो जाता है आपस में प्रेम और जज्बात ख़तम होने लगते है और एक दूसरे की जरुरत ख़तम हो जाती है ऐसे रिश्तो के बोझ को ढोने से लोग अलग होना ज्यादा पसंद करते है कभी कभी कुछ लोग समाज के बंधनो से जुड़े रहने के कारण एक दूसरे के साथ रहते है पर उनके बीच अपनापन और प्यार नहीं होता डाइवोर्स अब पहले से काफी सरल हो गया है और लोग सोच समझ कर अलग होने का फैसला ले लेते है लेकिन डाइवोर्स लेने से पहले एक बार रुके और सोचे की क्या सच में ऐसा करना चाहिए इससे किस तरह की परेशानिया आ सकती है इसलिए ऐसा करने से पहले नीचे दिए कुछ पॉइंट्स पर ध्यान जरूर दें





अलग होने का आप पर असर -पार्टनर से अलग होने के बाद आपको बहुत ही अकेलापन फील होगा आप दोनों ने साथ में कुछ हसीं पल बिताये होंगे और कुछ बुरे पल भी जिन्हे सोच कर आपको गुस्सा भी आता होगा पर आप कही न कही उनसे प्यार तो करते ही होंगे इतने वक़्त साथ रहने से लगाव हो जाता है अलग होने के बाद ऐसा न हो की आपको उनकी कमी महसूस हो फिर आपके पास कोई रास्ता नहीं बचेगा इसलिए अगर आपको लगता है कुछ आदतों की वजह से आप दोनों अलग हो रहे है तो उनको बदलकर देखा जा सकता है


दोहरी भूमिका निभाना -जो तलाकशुदा पेरेंट्स अलग अलग रहते है उन्हें बच्चो को पलने में दोहरी भूमिका निभानी पड़ती है बच्चो को उन्हें माँ बाप दोनों का प्यार देना होता है साथ ही बच्चो की देखभाल उनका स्कूल आपका ऑफिस और बच्चो की जरुरत हर काम के लिए उन्हें अकेले ही प्रयास करना पड़ता है बच्चो को अनुशाषित करना भी उनका ही काम होता है क्या आप ये साडी जिम्मेदारी अकेले निभा पाएंगे एक बार सोच कर जरूर देख लें


बच्चो को जानकारी दीजिये -यदि आप शादीशुदा है और तलाक लेना चाहते है तो अगर आपके बच्चे है तो उन्हें इसकी जानकारी जरूर दें की क्या बदलने वाला है बच्चे नाजुक होते है संबेदनशील वो बड़ो के मामलो और उनकी समस्या को नहीं समझ सकते है इसका क्या असर होने वाला है उसके बारे में गहराई से सोचे और बच्चे को अबगत कराये


अलग होने के नतीजे -अलग होने से पहले वित्तीय मामले में जानकारी जरूर ले ऐसा न हो डाइवोर्स के बाद आपको भयंकर आर्थिक तंगी से गुजरना पड़े अगर आप कोई काम नहीं करती और आपके परिवार में ऐसा कोई नहीं है जो आपके खर्च का निर्वाह कर सके तो पहले आर्थिक रूप से मजबूत बनने की प्लानिंग कर ले आपको अपने पति से गुजरा भत्ता भी मिलता है परन्तु वो उनकी आमदनी पर निर्भर करेगा इसलिए एक बार ये सोच लें की क्या आप अलग होने के बाद अपना खर्च उठा पायँगी या पति के दिए गुजारे भत्ते से आपकी जरुरत पूरी हो सकती है सरे पहलू पर विचार करके ही फैसला लें


साथी से एक बार चर्चा करें -अगर आप दोनों आपसी सहमति से अलग होना चाहते है तो ठीक है ऐसा न हो की किसी ग़लतफ़हमी से आपका रिश्ता टूट रहा है और आपको जानकारी भी नहीं इसलिए पहले मिलकर बात कर लें कभी कभी दोनों के ईगो के कारण संवाद टूट जाता है की में क्यों पहले बात करू वो क्यों नहीं परन्तु एक बार बात करके देखे ऐसे मामलो में आपसी चर्चा और विचार विमर्श जरूर करना चाहिए शांति से बैठ कर एक दूसरे की परेशानी सुने की क्या परेशानी इतनी बड़ी है जो आप अलग होने का फैसला ले रहे है



दोषारोपण से बचे -कभी कभी होता है की गुस्से में हम एक दूसरे पर आरोप लगाने लगते है की आपकी गलती से ये हुआ है आपकी गलती से संबंध टूट रहे है या और भी कोई बात पर ध्यान रखे इस तरह की गलती से बचे सामने वाले की गलती हो फिर भी इस तरह की बात न करे क्यूंकि रिश्ता टूटने में सिर्फ एक इंसान की गलती नहीं होती कमी दोनों में कुछ न कुछ होती है तभी रिश्ता टूटता है इसलिए एक दूसरे पर आरोप न लगाए अगर रिश्ता ख़तम भी कर रहे है तो नफरत के साथ न करके एक समझदारी के साथ ही करे









गुरुवार, 1 जून 2017

प्रेगनेंसी की प्लानिंग करने जा रहे है तो इन बातो का ध्यान रखना जरुरी है-PREGNANCY GUIDANCE

जून 01, 2017 0 Comments
किसी भी स्त्री के लिए माँ बनना एक बेहद ही खूबसूरत पल होता है जिसमे वो कितने ही सपने बुनती है अपनी आने वाली संतान के लिए भगवन ने माँ बनने का बरदान सिर्फ एक महिला को इसलिए दिया है की उसमे सहनशक्ति अधिक होती है जिससे वो ९ महीने तकलीफ उठा कर अपने बच्चे को जन्म दे सकती है गर्भावस्था का सबसे पहला चरण है की उसकी प्लानिंग कैसे करे 





प्रेगनेंसी प्लानिंग -सबसे पहले जैसे ही आपको अहसास हो जाये की अब आप माँ बनना चाहती है उसके लिए मेंटली तैयार है तो एक अच्छे डॉक्टर के पास जाकर अपने स्वास्थ की अच्छे से जाँच करवा ले आपका वेट आपका स्वास्थ साडी जानकारी प्राप्त करे की क्या आप एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दे सकती है 

अच्छे डॉक्टर का चुनाव -आपको प्रेगनेंसी गाइडेंस के लिए एक ऐसे डॉक्टर को चुनना चाहिए जो प्रेगनेंसी से लेकर बच्चे के जन्म तक आपकी और बेबी की सही से देखभाल कर सके  
जो आपके घर के नजदीक हो जिससे आपको जाने में परेशानी का सामना न करना पड़े और जिससे आप समय समय पर कुछ टिप्स ले सकें डॉक्टर का गयनोलॉजिस्ट स्त्री रोग बिशेषक होना जरुरी है जिससे वो आपको पूरी जानकारी सही से बता सके 

हॉस्पिटल चुनते समय ध्यान रखे- आपको कुछ जांचे जरूर करवाना पड़ेंगी जैसे की अल्ट्रासाउंड,ब्लड,यूरिन इसलिए ध्यान रखे हॉस्पिटल चुनते समय की ये सारी जांच की फैसिलिटी जरूर होनी चाहिए इसके साथ ही दर्द रहित बच्चे का जन्म ऑपरेशन की व्यवस्था डिलीवरी के बाद माँ और बच्चे के देख रेख की व्यवस्था बालरोग सारी सुबिधाये होनी चाहिए 
हॉस्पिटल से ब्लड बैंक की जानकारी भी प्राप्त करके रखे किसी आपातकालीन स्थति में ब्लड की जरुरत पढ सकती है 

प्रेगनेंसी से पहले शरीर की केयर -अगर आप प्रेगनेंसी की तैयारी कर रहे है तो आपको पहले अपने शरीर पर ध्यान देना आरभ कर देना चाहिए सिगरेट शराब जैसी अगर लत है तो तुरंत छोड़ दे अपने वजन को चेक करवाए और अगर वजन ज्यादा है तो काम करने की कोशिश करे प्रेगनेंसी के वक़्त १० से १२ किलो तक वजन बढ़ता है अगर आपका वजन पहले से ज्यादा होगा तो आपको ज्यादा परेशानी आ सकती है संतुलित भोजन और exersice या योग करना प्रारम्भ कर दें हरी सब्जिया,डाले,दूध फलो का सेवन करे शाम को थोड़ा टहलना चाहिए जिससे थकन काम होगी और नींद अच्छी आएगी और मानसिक शांति के लिए पूजा पाठ आदि करना चाहिए और टेंशन से दूर रहने का प्रयास करें 



पहले गर्भपात हो चुका है तो साबधानियॉ- अगर परिवार में किसी ऐसे बच्चे का जन्म हुआ है जिसमे शारीरिक त्रुटि खून की कमी या कोई अनुबंशिक बीमारी या जन्म से कोई कमी है तो ऐसी अवस्था को डॉक्टर को जरूर बताये और अगर पहले २ या २ से अधिक बार गर्भपात हो चुका है तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें अगर स्त्री का ब्लड RH नेगेटिव है तो एंटी-डी का इंजेक्शन लगवाना चाहिए अगर पहले गर्भपात हो चुका है तो भी यह इंग्जेक्शन जरुरी होता है ऐसी अवस्था में शरीर का पूरा ब्लड भी बदलना पड़ सकता है